गंगा नदी (River Ganga)

गंगा नदी का उद्गम कहां से होता है?

गंगा नदी का इतिहास | Story of River Ganga | Ganga Nadi | Ganga Nadi ki Utpatti | Ganga Nadi Basin| Ganga Nadi Pranali | Gomukhi | Gangotri | Ganga Nadi ki lambai | Ganga Nadi kitne rajyo se hokar bahti he?


गंगा नदी को पूजनीय और पवित्र माना जाता है। गंगा, भारत और बांग्लादेश में मिलकर 2,510 किलोमीटर की दूरी तय करती है। यह सबसे महत्वपूर्ण नदियों में से एक है। भारत की सबसे महत्वपूर्ण नदियों में से एक है। यह उत्तर भारत के मैदानों की विशाल नदी है. इसको उत्तर भारत की अर्थव्यवस्था का मेरुदण्ड भी कहा गया है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर गंगा नदी का अन्ग्रेज़ीक्र्त नाम ‘द गैंगिज़’ है। यह विश्व के सबसे उपजाऊ और घनी आबादी वाले क्षेत्रों से होकर बहती है।

गंगा नदी का उद्गम कहां से होता है?

गंगा नदी का उद्गम किसी एक मुख्यधारा से नहीं बल्कि कई धाराओं के संयुक्त मिलन से हुआ है। गंगा नदी के आकार लेने में 6 बड़ी तथा उनकी 5 छोटी धाराओं का योगदान है। गंगा नदी की प्रधान शाखा भागीरथी है जोकि कुमायूं में हिमालय के गोमुख नामक स्थान पर गंगोत्री हिमनद जो कि ,3140 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है , से निकलती है।

अलकनंदा यह गंगा के चार नामों में से एक है। यह उत्तराखंड में संतोपंथ और भगीरथ खरक नामक हिमनदों से निकलती है। यह स्थान गंगोत्री कहलाता है। देव प्रयाग में अलकनंदा और भागीरथी का संगम होता है और इसके बाद अलकनंदा नाम समाप्त होकर केवल गंगा नाम रह जाता है। गंगा के पानी में इसका योगदान भागीरथी से अधिक है। प्रसिद्ध तीर्थ बद्रीनाथ अलकनंदा के तट पर बसा है। अलकनंदा की सहायक नदियां धौली, विष्णु गंगा तथा मंदाकिनी है।

धौलीगंगा का अलकनंदा में संगम विष्णुप्रयाग में होता है। तथा नंदप्रयाग में अलकनंदा तथा नंदाकिनी से संगम होता है। इसके बाद कर्णप्रयाग में अलकनंदा का पिंडर नदी से संगम होता है। इसके बाद अलकनंदा नदी ऋषिकेश से 139 किलोमीटर दूर स्थित रुद्रप्रयाग में मंदाकिनी से मिलती है। इस प्रकार अलकनंदा में इसकी सभी सहायक नदियों का मिलन होकर अलकनंदा का निर्माण होता है।

Origin of river Ganga, length of river Ganga,

भागीरथी और अलकनंदा का 1500 फीट ऊंचाई पर स्थित देव प्रयाग में संगम होता है। इस प्रकार भागीरथी तथा अलकनंदा के मिलन से गंगा नदी की उत्पत्ति होती है।

गंगा नदी (River Ganga) की उत्पत्ति में 5 प्रयागो को जिसमें विष्णुप्रयाग नंदप्रयाग कर्णप्रयाग रुद्रप्रयाग तथा देवप्रयाग का अधिक महत्व है इसलिए इन पांचों प्रयागो को पंच प्रयाग कहा जाता है। इस प्रकार 200 किलोमीटर का संकरा पहाड़ी रास्ता तय करके गंगा नदी ऋषिकेश होते हुए पहली बार हरिद्वार में (मैदानी भाग) में प्रवेश करती हैं ।

गंगा नदी (River Ganga) की मुख्य सहायक नदी यमुना नदी है। गंगा और यमुना का संगम प्रयागराज (इलाहाबाद) में होता है। यह संगम स्थल तीर्थ के रूप में विश्व विख्यात है। प्रयागराज को तीर्थराज के नाम से भी जाना जाता है। इसके बाद गंगा नदी काशी में वर्क रूप लेती है जिसके कारण इसे उत्तरवाहिनी कहते हैं।

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले के गिरिया नामक स्थान के पास गंगा नदी दो शाखाओं में विभाजित हो जाती है। पहली शाखा भागीरथी दूसरी शाखा पद्मा के नाम से जानी जाती है। भागीरथी गिरिया नामक स्थान से दक्षिण की ओर बहती है ,जबकि पदमा दक्षिण पूर्व की ओर बहती हुए फरक्का बैराज से होकर बांग्लादेश में प्रवेश करती हैं।

पद्मा नदी बांग्लादेश में गंगा की मुख्य धारा है। अर्थात् गंगा नदी बांग्लादेश में प्रवेश करते ही ‘पद्मा’ के नाम से जानी जाती है। राजमहल से ३० किमी पूर्व में गंगा की एक शाखा निकलकर मुर्शिदाबाद, , हुगली और कलकत्ता होती हुई पश्चिम-दक्षिण की ओर बंगाल की खाड़ी में गिर जाती है, जो ‘भागीरथी’ शाखा के नाम से प्रसिद्ध है। पश्चिम बंगाल में गंगा, ‘पद्मा’ नाम से जानी जाती है। गोआलंद के निकट ब्रह्मपुत्र नदी की शाखा, जो ‘जमुना’ नाम से प्रसिद्ध है, आकर इसमें गिरी है। इसके बाद मूल नदी ने ब्रह्मपुत्र के साथ मिलकर ‘मेघना’ नाम धारण किया है और नोआखाली के निकट समुद्र में मिल गई है

गंगा की सहायक नदियां:-

  • उत्तर की और से गंगा में मिलने वाली सहायक नदियां: यमुना, रामगंगा, करनाली (घाघरा), ताप्ती, गंडक, कोसी.
  • दक्षिण की ओर से गंगा मिलने वाली सहायक नदियां: चम्बल, सोन, बेतवा, केन, दक्षिणी टोंस.

गंगा नदी कितने राज्यों से होकर बहती है?

गंगा नदी पांच राज्यों से होकर बहती है उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश , बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल।

किस नदी को विश्वासघत नदी कहते हैं?

हुगली नदी को कहते है। भारत की एक नदी है। जो गंगा नदी की सहायक नदी है। इसको विश्व का सबसे अधिक विश्वास घाति नदी कहते है। इसी के तट पर कोलकाता बन्दरगाह स्थित है जिसको पुर्व का लंदन कहा जाता है।

गंगा नदी के बारे में महत्वपूर्ण तथ्य

  • गंगा और ब्रह्मपुत्र दुनिया में सबसे बड़ा नदी डेल्टा है।
  • 2008 में भारत सरकार ने गंगा नदी को राष्ट्रीय नदी घोषित किया था।
  • गंगा का पानी कभी सड़ता नहीं है।
  • दिल्ली सर्च सेंटर के एक विशेष शोध में पाया गया है कि गंगा के पानी में मच्छर पैदा नहीं हो सकते।
  • भारत का राष्ट्रीय जल जीव डॉल्फिन है।
  • गंगा नदी में डॉल्फिन पाई जाती है।
  • कहा जाता है कि गंगा के पानी में बैक्टीरिया से लड़ने की विशेष शक्ति होती है।
  • अन्य नदियों की तुलना में गंगा नदी में 25% ऑक्सीजन का लेवल ज्यादा है।
  • इलाहाबाद और हल्दिया के बीच लगभग 16 किलोमीटर गंगा नदी जलमार्ग को राष्ट्रीय जलमार्ग घोषित किया गया है।

ctetpoint.com

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *